रफ्तार रीबूटिड के इस सेममेंच में बातें बहुत सारी कॉम्पैक्ट एसयूवी की. सबकॉम्पैक्ट SUV सेगमेंट छाया हुआ है. हमेशा लोकप्रिय, अब इसमें पहले से ज्यादा खिलाड़ी हैं. यहां पहले से ही 7 कारें हैं और अगले 6 महीनों में कम से कम 2 और आने वाली हैं. पार्टी में शामिल होने वाली सबसे नई कार है – किआ सोनेट. और इसने मामला काफी गर्म कर दिया है! तो यहां किआ सोनेट और इसके मुकाबले में खड़ी सभी कारों की तुलना करना बहुत ज़रूरी हो गया है. मुकाबले की सभी कारें किआ सोनेट पर हावी होने वाली हैं, क्योंकि ये सभी पहले से सफल हैं और अपने मुकाबले की बाकी कारों को पछाड़ कर आगे बढ़ी हैं. अबतक सेगमेंट की सबसे ज़्यादा बिकने वाली कार मारुति सुज़ुकी विटरा ब्रेज़ा, बाज़ार की मौजूदा लीडर ह्यून्दे वेन्यू, भारत की सबसे सुरक्षित कार महिंद्रा XUV300 और इस सेगमेंट की शुरुआत करने वाली फोर्ड इकोस्पोर्ट हैं. तो मैं टाटा नेक्सॉन और टोयोटा की अर्बन क्रूज़र को भी इस मुकाबले में शामिल करना चाहता था. हमारे पास सारे मुख्य दावेदार हैं. टाटा ने हमें नेक्सॉन नहीं दी, हालांकि हमने उसे पाने की कोशिश की, और ना ही टोयोटा के पास हमारे लिए नई अर्बन क्रूज़र समय पर तैयार थी. लेकिन मैं यहां इसकी शिकायत नहीं कर रहा, क्योंकि किआ सोनेट के मुकाबले में जो कारें हमारे पास उपलब्ध हैं उनसे किआ सोनेट का असली मुकाबला है. फरवरी 2019 की बात है जब महिंद्रा XUV300 आई और उसी साल मई में हु्यन्दे वेन्यू लॉन्च हुई. लेकिन फोर्ड इकोस्पोर्ट सबसे पुरानी होने के बावजूद एहम है और मुकाबले में बनी हुई है. मारुति सुजुकी विटारा ब्रेज़ा ने डीज़ल को बंद कर दिया और अब सिर्फ के-सीरीज पेट्रोल इंजन है – लेकिन पहले से उलट अब एएमटी नहीं बल्कि ऑटो गियरबॉक्स है. टाटा नेक्सॉन को भी बदला गया है, यह भारत की पहली 5-स्टार कार थी जब तक XUV300 ने अपने क्रैश टेस्ट स्कोर से इसको पीछे नहीं छोड़ दिया, और फिर कोरियाई जोड़ी हैं, जिसमें बिल्कुल नई और बहुत चर्चित किआ सोनेट शामिल है. तकनीक और इंजन की बात करें तो टोयोटा अर्बन क्रूज़र असल में विटारा ब्रेज़ा पर आधारित है और ब्रेज़ा की तर्ज पर इस कार के साथ ऑटोमैटिक के अलावा माइल्ड हाईब्रिड सिस्टम के साथ आई है. जानें किसने जीता या अहम मुकाबला.



Source link

By admin

Leave a Reply