[ad_1]

बंगाल में सिख युवक से बदसलूकी पर CM अमरिंदर सिंह ने जताई नाराजगी, ममता बनर्जी से की कार्रवाई की मांग

पंजाब के CM ने इस घटना पर नाराजगी जताई है.

खास बातें

  • बीजेपी ने कोलकाता में किया था प्रदर्शन
  • सिख युवक की पगड़ी उतरने का वीडियो वायरल
  • CM अमरिंदर सिंह ने की कार्रवाई की मांग

नई दिल्ली:

पश्चिम बंगाल (West Bengal) के कोलकाता में गुरुवार को बीजेपी (BJP) ने राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया था. इस दौरान पुलिस ने कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज किया था. इसकी तस्वीरें-वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं. इस बीच एक सिख शख्स का वीडियो भी तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें एक पुलिसकर्मी से झड़प के दौरान सिख शख्स की पगड़ी नीचे गिर जाती है. बीजेपी का आरोप है कि हावड़ा मैदान इलाके में कोलकाता पुलिस ने बठिंडा के रहने वाले 43 वर्षीय सिख शख्स बलविंदर सिंह की पगड़ी खींचकर धार्मिक भावनाओं को आहत किया है. कई नेताओं व अलग-अलग क्षेत्रों से जुड़ी हस्तियों ने इसकी निंदा की है. पंजाब के CM कैप्टन अमरिंदर सिंह (Capt Amarinder Singh) ने भी इस घटना पर नाराजगी जाहिर की है.

यह भी पढ़ें

मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने बताया कि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कोलकाता पुलिस के उस कृत्य पर दुख जाहिर किया है, जिसमें गिरफ्तारी के दौरान सिख युवक की पगड़ी गिरा दी जाती है. मुख्यमंत्री सिंह ने पश्चिम बंगाल की CM ममता बनर्जी से सिखों की भावनाओं को आहत करने वाले पुलिस अधिकारी के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग की है.

वीडियो से साबित होता है कि पुलिस ने भाजपा की रैली पर बम फेंका : दिलीप घोष

बता दें कि बलविंदर सिंह के पास से 9 MM की एक पिस्टल भी जब्त की गई. हिरासत में लिए जाने के बाद उन्होंने पिस्टल का लाइसेंस दिखाया, जो अगले साल जनवरी तक मान्य है. बलविंदर सिंह भारतीय सेना के एक पूर्व सैनिक हैं, जो कि राष्ट्रीय राइफल्स बटालियन में अपनी सेवाएं दे चुके हैं. हालांकि कोलकाता पुलिस के हवाले से कहा गया कि जान-बूझकर पगड़ी खींचे जाने का कोई इरादा नहीं था.

बीजेपी का बंगाल मार्च : रिवॉल्वर लिए सिख शख्स के साथ धक्का-मुक्की और पगड़ी खींचे जाने के बाद मचा कोहराम

गौरतलब है कि गुरुवार को कोरोनावायरस (Coronavirus) से बचने के तमाम उपायों और सोशल डिस्टेंसिंग को दरकिनार करते हुए बंगाल सरकार के सचिवालय ‘नाबन्ना’ के बाहर सैकड़ों की संख्या में बीजेपी नेताओं-कार्यकर्ताओं की पुलिस से झड़प हो गई थी. कई वायरल हो रही वीडियो फुटेज में देखा जा सकता है कि पुलिस दंगारोधी वर्दी में है और आंसू गैस तथा वॉटर कैनन की मदद से भीड़ को तितर-बितर करने की कोश‍िश कर रही है. राज्य सरकार द्वारा बड़ी संख्या में लोगों के एकत्रित होने पर प्रतिबंध लगाए जाने के आदेश की अवहेलना करते हुए बीजेपी ने ‘नाबन्ना चलो’ मार्च का आयोजन किया था.

VIDEO: कोलकाता : BJP प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज

[ad_2]

Source link

By admin

Leave a Reply