Breast Cancer Awareness Month 2020: शुरुआती संकेतों को न करें नजरअंदाज, जीवन बचाने में मिलेगी मदद, जानें कैसे?

Breast Cancer Awareness Month: स्तन के आकार में परिवर्तन सबसे शुरुआती लक्षणों में से एक है

खास बातें

  • अक्टूबर स्तन कैंसर जागरूकता माह के रूप में मनाया जाता है.
  • ब्रेस्ट में गांठ स्तन कैंसर का पहला ध्यान देने योग्य लक्षण है.
  • जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है आपको स्तन कैंसर होने का अधिक खतरा होता है.

Breast Cancer Awareness Month 2020: अक्टूबर के महीने को स्तन कैंसर जागरूकता माह के रूप में मनाया जाता है. इस महीने के दौरान महिलाओं की एक बड़ी आबादी को प्रभावित करने वाले कैंसर के इस प्रकार के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए दुनिया भर में विभिन्न गतिविधियां आयोजित की जाती हैं. लोगों को स्तन कैंसर का शीघ्र पता लगाने की जरूरत है. यह इसके उपचार के विकल्प और रोकथाम के तरीकों से अवगत कराने का प्रयास करता है जो जीवन को बचाने में मदद कर सकते हैं. डब्ल्यूएचओ (WHO) के अनुसार, हर साल स्तन कैंसर से लगभग 1.38 मिलियन नए मामले और 458 000 मौतें होती हैं (IARC Globocan, 2008)। स्तन कैंसर दुनिया भर में महिलाओं में अब तक का सबसे आम कैंसर है. ब्रैस्ट कैंसर अवेयरनेस मंथ स्टार्स के रूप में, आज यहां आपको स्तन कैंसर का जल्द पता लगाने और यह कैसे किया जाता है, सब कुछ जानने की जरूरत है.

कैंसर का जल्दी पता लगाने का महत्व | Importance Of Early Detection Of Cancer

यह भी पढ़ें

अध्ययनों के अनुसार, स्तन कैंसर का जल्द पता लगाने से रोगी की उत्तरजीविता दर बढ़ सकती है. स्तन कैंसर के लक्षण की जांच करना महत्वपूर्ण है. लक्षणों में शामिल हो सकते हैं- स्तन में गांठ, स्तन में दर्द, स्तनों के पास के क्षेत्रों में सूजन, स्तन के दूध के अलावा निप्पल से डिस्चार्ज, निप्पल के आकार में परिवर्तन और बांह के नीचे सूजन. कुछ मामलों में, ये स्तन कैंसर के लक्षण नहीं हो सकते हैं, लेकिन इनमें से किसी भी लक्षण के बारे में तुरंत डॉक्टर को सूचित किया जाना चाहिए.

ब्रेस्ट टेस्ट (Breast Exam)

एक ब्रेस्ट टेस्ट स्तन या निप्पल के आकार में लिम्फ और अन्य परिवर्तन की उपस्थिति को निर्धारित करने में मदद करती है जो एक संकेत हो सकता है. महिलाओं को नियमित रूप से घर पर एक टेस्ट करना चाहिए. बेहतर विश्लेषण के लिए अपने चिकित्सक से परामर्श करें.

0nk9bpb8

Breast cancer awareness month: Mammography can help in breast cancer diagnosis
Photo Credit: iStock

मैमोग्राफी (Mammography)

मैमोग्राफी एक एक्स-रे है जो स्तनों में किसी भी असामान्यता का पता लगाने में मदद कर सकता है. अक्सर यह सलाह दी जाती है कि जिन महिलाओं को स्तन कैंसर का अधिक खतरा है, उन्हें वर्ष में एक बार मैमोग्राफी करवानी चाहिए.

किसको है ज्यादा जोखिम?

– 55 वर्ष से अधिक आयु की महिलाएं.

– अत्यधिक शराब का सेवन करने वाले.

– प्रारंभिक माहवारी या देर से रजोनिवृत्ति.

– अधिक उम्र में जन्म देना.

– जो महिलाएं हार्मोन थेरेपी का चयन करती हैं.

– आनुवंशिकी भी एक भूमिका निभा सकती है.

सिर्फ महिलाएं ही नहीं, पुरुषों को भी स्तन कैंसर का खतरा होता है लेकिन पुरुषों में इसका खतरा काफी कम होता है. प्रारंभिक निदान रोगी को समय पर चिकित्सा उपचार लेने में मदद कर सकता है और प्रारंभिक अवस्था में ट्यूमर को हटाने में मदद कर सकता है.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.



Source link

By admin

Leave a Reply