असम चुनाव 2021: 'प्रचारकों' का मनोबल बढ़ाने के लिए पहुंचे संघ प्रमुख मोहन भागवत

संघ प्रमुख मोहन भागवत इस समय असम सहित पूर्वोत्‍तर राज्‍यों के दौरे पर हैं

खास बातें

  • पूर्वोत्‍तर राज्‍यों के सात दिनों के दौरे पर हैं संघ प्रमुख
  • इस दौरान असम के प्रमुख बीजेपी नेता करेंगे उनसे भेंट
  • मणिपुर और नगालैंड भी संघ प्रमुख की यात्रा का हैं हिस्‍सा

गुवाहाटी :

असम में 2021 में होने वाले विधानसभा चुनाव के पहले राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (RSS) इस पूर्वोत्‍तर राज्‍य की सियासी और सामाजिक स्थित का जायजा ले रही है. इसके लिए सरसंघचालक मोहन भागवत (Mohan Bhagwat), क्षेत्र की अपने सात दिन की यात्रा के अंतर्गत मंगलवार से यहां डेरा डाले हुए हैं.आरएसएस के सूत्रों कं अनुसार, भागवत असम के अलावा नजदीक के राज्‍य अरुणाचल प्रदेश भी जाएंगे. बीजेपी के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, असम के सीएम सर्बानंद सोनोवाल, कैबिनेट मंत्री हिेमांता बिस्‍व सरमा और परिमल शुक्‍लाबैद्य और राज्‍य बीजेपी प्रमुख रंजीत कुमार दास के इस दौरान सरसंघचालक से मुलाकात करने की संभावना है. पांच दिसंबर तक भागवत, बीजेपी के पदाधिकारियों के अलावा असम और पूर्वोत्‍तर राज्‍यों के अन्‍य संघ प्रचारकों के साथ मीटिंग करेंगे. बीजेपी सूत्रों ने बताया कि इस संबंध में कुछ बैठक हो चुकी हैं और कुछ जल्‍द ही होंगी. 

यह भी पढ़ें

Newsbeep

RSS चीफ भागवत के CAA वाले बयान पर ओवैसी का पलटवार – हम बच्चे नहीं कि कोई हमें ‘भटका’ दे

वैसे तो मणिपुर और नगालैंड भी संघ प्रमुख मोहन भागवत के ट्रेवल प्‍लान का हिस्‍सा है लेकिन खास फोकस असम को लेकर ही है जहां अगले साल यानी वर्ष 2021 में चुनाव होने हैं. बीजेपी ने यहां अपना प्रचार अभियान भी शुरू कर दिया है, इसके तहत पार्टी ने चाय बगान से जुड़े आदिवासी समुदाय को अप्रोच किया है और वहां शैक्षाणिक इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर विकसित करने का वादा किया है. राज्‍य सरकार ने सरकारी कॉलेजों में 10 फीसदी सीट टी-गार्डन बेल्‍ट के लिए रिजर्व का भी फैसला किया है. सूत्रों ने बताया कि पूर्वोत्‍तर राज्‍य के बाद संघ प्रमुख बिहार जाएंगे.



Source link

By admin

Leave a Reply